admin May 26, 2018

bharatiy svatantrata aandolan ka itihas 1857 se lekar 1947 tak

भारतीय स्वतंत्रता आन्दोलन का इतिहास-1857 से लेकर 1947 तक  

भारतीय स्वतंत्रता आन्दोलन मुंबईलाला लाजपत रायविपिनचंद्र पालमहात्मा गांधीबाल गंगाधर तिलकगीता bharatiy svatantrata aandolanरहस्यमूर्तिपूजाबहुदेववादफासीवाद , मार्क्सवाद ,  आदर्शवाद , उदारवाद , दादा भाई नौरोजी , गोपाल कृष्ण गोखले नरेन्द्र  देव , सुरेन्द्र नाथ बनर्जी , सर फिरोज शाह मेहता , महादेव गोविन्द रानाडे , द्वैतवादअद्वैतवादत्रैतवाद , आधुनिक भारत का कौटिल्यकौटिल्य

  1. 1. गोखले के विचारों प्रेरणा श्रोत क्या है?
    1)  फासीवाद
    2) मार्क्सवाद
    3) आदर्शवाद
    4 ) उदारवादउत्तर:-4 ) उदारवाद


    Q. 2. “राजनीतिक  वसीयतनामा” किससे सम्बंधित है?
    1)  बाल गंगाधर तिलक
    2) महात्मा गाँधी
    3) दादा भाई नौरोजी
    4 ) गोपाल कृष्ण गोखले

    उत्तर:- 4 ) गोपाल कृष्ण गोखले 

    Q. 3. 
    गोपाल कृष्ण गोखले के राजनीतिक गुरु कौन थे?
    1)  नरेन्द्र  देव
    2) सुरेन्द्र नाथ बनर्जी
    3) सर फिरोज शाह मेहता
    4 ) महादेव गोविन्द रानाडे

    उत्तर:- 4 ) महादेव गोविन्द रानाडे 

    Q. 4.
    तिलक की गहरी आस्था किसमे  थी?
    1)  अद्वैतवादी दर्शन में
    2)  द्वैतवाद में
    3) त्रैतवाद में
    4 ) इनमे से कोई नहीं ।

    उत्तर:- 1)  अद्वैतवादी दर्शन में 

    Q. 5. “
    आधुनिक भारत का कौटिल्य” किसे कहा गया है ?
    1)  लाला लाजपतराय को
    2)  गोपाल कृष्ण गोखले को
    3) बाल गंगाधर तिलक को
    4 ) इनमे से कोई नहीं ।

    उत्तर:- 3) बाल गंगाधर तिलक को 

Mock test for RPSC 1 Grade Exam

 

bharatiy svatantrata aandolan ka itihas 1857 se lekar 1947 tak

Leave a comment.

Your email address will not be published. Required fields are marked*